Home Hindime नया मोटर व्हीकल एक्ट 2019 – Vehicle Act 2019

नया मोटर व्हीकल एक्ट 2019 – Vehicle Act 2019

103
0
नया मोटर व्हीकल एक्ट 2019

भारत में बढ़ती सड़क दुर्घटनाओं की संख्या में कमी लाने के लिए 1 सितम्बर 2019 को नया मोटर व्हीकल एक्ट 2019 को संशोधित करके रोड पर होने वाले हादसों में कमी लाने के लिए तैयार किया गया है, जिसमे अब पहले के मुकाबले 10 गुने अधिक जुर्माने का प्रावधान किया गया है ।

नया मोटर व्हीकल एक्ट 2019

यह संशोधन है क्या ? और क्या होंगे इसके सकारात्मक और नकारात्मक पहलू जानने के लिये आइए पढ़ते है इस आर्टिकल को – सरकार इन संशोधन के जरिये जुर्माने को बढ़ाकर यातायात नियमों के प्रति जनमानस में अनुशासन लाना चाहती है , और ये बदलाव देश के 30 साल पुराने यातायात कानून में नए बदलाव होंगे । 

आखिर कौनसे बदलाव होंगे और क्या जुर्माने होंगे ? आइए जानते है,- new vehicle act 2019

  1. सड़क निर्माण में लापरवाही पर उसके कांट्रेक्टर ( ठेकेदार ) पर 1 लाख रुपये के जुर्माने का प्रावधान है। इसके साथ गाड़ी निर्माण में गड़बड़ी पर वाहन निर्माता कंपनी पर 100 करोड़ रुपए जुर्माने का प्रावधान है।
  2. सीट बेल्ट नहीं पहनने पर अब 300 रुपए की जगह 1000 रुपए का जुर्माना देना पड़ेगा । 
  3. बिना ड्राइविंग लाइसेंस के गाड़ी चलाने पर 5000 रुपए का जुर्माना देना होगा। पहले ये राशि 500 रुपए थी ।
  4. किसी भी टू व्हीलर पर ओवर लोडिंग पर 2000 रुपए जुर्माना तथा 3 महीने के लिए लाइसेंस रद्द किया जाएगा ।
  5. शराब पीकर ड्राइविंग करने पर 10000 रुपए का जुर्माना किया जाएगा ।
  6. जरूरत से ज्यादा तेज गाड़ी चलाने पर 1000 रुपए जुर्माना LMV पर और 2000 रुपए जुर्माना MMV पर लगेगा ।
  7. बिना इन्सुरेंस कराए गाड़ी चलाने पर 2000 का जुर्माना किया जाएगा । 
  8. ट्रैफिक सिग्नल ( रेड लाइट उल्लंघन ) तोड़ने पर 1000 रुपये जुर्माना और 3 महीने के लिए लाइंसेंस रद्द किया जाएगा । 
  9. बिना परमिट के गाड़ी चलाने पर 1000 रुपए तक का  जुर्माना वसूला जाएगा ।
  10. इसमें सबसे मुख्य तथ्य यह है कि किसी नाबालिक के द्वारा ड्राइविंग करने पर 25000 तक का जुर्माना और 3 साल तक कि जेल का प्रावधान है,  और वाहन का रजिस्ट्रेशन रद्द किए जाने के बाद में नाबालिक के माता-पिता अथवा परिजनों को दोषी माना जायेगा तथा उस नाबालिक को 25 वर्ष की उम्र तक लाइसेंस देने से वंचित किया जाएगा । 
  11. लाइसेंस के रद्द होने के बावजूद ड्राइविंग करने पर 10000 रुपए जुर्माना राशि होगी । 
  12. एम्बुलेंस को आपातकालीन स्तिथी का वाहन होने के कारण वरीयता दी गयी है और एम्बुलेंस को रास्ता ना दिए जाने पर 10000 रुपए जुर्माना वसूला जाएगा ।
  13. अयोग्यता के बावजूद ड्राइविंग करने पर 10000 रुपए तथा सड़क पर रेस लगाने के लिए 5000 रूपए जुर्माने की राशि है ।  

उपरोक्त के अलावा और भी संसोधन किये गए है लेकिन दिए गए संसोधन आम जनमानस को प्रत्यक्ष रूप से प्रभावित करते हैं । सरकार का ऐसा मानना है कि new vehicle act 2019 जुर्माने को बढ़ाने से सड़क दुर्घटनाओ में कमी आएगी । 

लेकिन वास्तविकता ये है कि जरूरत अभी और भी सहूलियतों की है जैसे कि सड़कों के उचित रख – रखावऔर उनको गुणवत्ता को बढ़ाना होगा और ये सुनिश्चित करना होगा कि भारत की जनता इस वाहन अधिनियम को डर से नहीं जिम्मेदारी से स्वीकार करे । इसके लिए जरूरी है कि सरकार पहले सामान्य जनता को इन नियमों के बारे में जानकारी दे , जानकारी के अभाव में नियमों का ज्यादा उल्लंघन होता है ।

नियमों को लागू होने से जहाँ एक तरफ काफी हलचल का माहौल बना रहा वही कई पुलिस महकमों ने इसके प्रति जागरूकता बढ़ाने के लिए फूल और हेलमेट चालकों को भेंट करके इसके प्रति रुझान बढ़ाया । जरूरी यह भी है कि जिन सड़को पर टोल टैक्स जैसे यातायात कर लिए जाते है उन राष्ट्रीय और राज्य राजमार्गों की गुणवत्ता और उनकी सुरक्षा पर अधिक ध्यान दिया जाना चाहिए । 

 नियमों के पालन हेतु जितने भी कागज़ात बनवाएं जाए उनकी प्रकिर्या को सरल और सुगम बनाने की भी जरूरत है । ऐसे में आर टी ओ कार्यालयों में सरल क्रिया का पालन किया जाए । कई खबरों में आया है की देश मे कई स्थानों पर वाहन से अधिक कीमत का जुर्माना थोपा गया है, उसके लिए यह जरूरी हो जाता है कि जुर्माने की अधिकतम सीमा तय की जाए । 

लोगों को अपने कागज डिजिटल रूप में रखने की भी सलाह दी जाए जिसके लिए डीजी लॉकर जैसी एप्पलीकेशन का इस्तेमाल करने सम्बन्धी जानकारी लोगों में बढ़ाई जानी चाहिए ।

visit – Official Website By- Subhindi.com

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here